चारधाम यात्रा 2022 ऑनलाइन पंजीकरण [शुरू!] Chardham Yatra से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें

Chardham Yatra Registration: चारधाम यात्रा 2022 ऑनलाइन पंजीकरण [शुरू]  चारधाम यात्रा  से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें। चारधाम यात्रा पंजीकरण कैसे करें? क्या चारधाम यात्रा के लिए ई-पास बनवाना होगा? और यह यात्रा कब शुरू होगी आदि की जानकारी इस लेख में दी गयी है। किसी भी बुजुर्ग व्यक्ति का सपना होता है अपने जीवन काल में एक बार चारधाम यात्रा पर जाने का। लेकिन पिछले कुछ साल से कॉरोना के कारण इस चार धाम यात्रा में भी काफी ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। आज से कुछ समय पहले तक आपको अगर चार धाम यात्रा पर जाना है तो आपको पास चाहिए होता था, पर अब इस नियम को बदल कर आपको चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण करना पड़ेगा। यह पंजीकरण कैसे होगा, यह सब हम इस आर्टिकल के द्वारा आपको बताएंगे।

उत्तराखंड चारधाम यात्रा 2022 पंजीकरण 

  • दोस्तों आपको बता दें की चारधाम यात्रा जो 03 मई 2022 से शुरू होने जा रही है। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार उत्तराखंड सरकार ने इस यात्रा के लिए सभी तैयारियां 25 अप्रैल 2022 तक पूरी करने का आदेश सम्बंधित विभाग को दे दिया है।
  • 03 मई को यमुनोत्री और गंगोत्री धाम के कपाट खुलेंगे और 06 मई को केदारनाथ और 08 मई 2022 को बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलेंगे।
  • अब चार धाम यात्रा करने के लिए सभी यात्रियों को ई-पास बनवाने की कोई जरुरत नहीं होगी। अब सभी यात्रियों को सिर्फ अपना रजिस्ट्रेशन करना है और आपका काम हो गया उसके उपरान्त आप अपनी चारधाम यात्रा कर सकते है।
  • उसके बाद यात्री चार धाम की यात्रा के साथ साथ उत्तराखंड में भी कहीं भी घूम सकते हैं।
  • चार धाम  की यात्रा करने में उत्सुक सभी यात्रियों को देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण करना होगा।
  • वहां उन्हें सबसे पहले अपना आधार नंबर देना होगा। वैसे अगर आप उत्तराखंड के रहने वाले है तो आपको पंजीकरण करवाने की कोई आवश्यकता नहीं है।
  • जो लोग चारधाम यात्रा जाने की सोच रहे है उन सभी श्रद्धालुओं का उत्तराखंड की सीमा नारसन व आशारोड़ी में अपना पंजीकरण करा सकेंगे। इसके इलावा ऋषिकेश और यात्रा मार्ग पर अलग-अलग जगह पंजीकरण केंद्रों की सुविधा उपलब्ध होगी।
  • जैसा की आप सभी को पता है पिछले 2 वर्षों में कोरोना महामारी के कारण चारधाम यात्रा सुचारू रूप से नहीं चल पा रही थी। लेकिन वर्ष 2022 में अब तक करीब 40 लाख लोग होटलों में बुकिंग करा चुके है, यह जानकारी उत्तराखंड के पर्यटन विभाग ने दी है। इसके इलावा अगले 2 महीने के लिए जीएमवीएन के सभी गेस्ट हाउस फुल है। और केदारनाथ हेली सेवा की ऑनलाइन बुकिंग भी अगले 1 महीने के लिए फुल हो चुकी है। यह सब देखते हुए यहीं अंदाजा लगाया जा सकता है अबकी बार उत्तराखंड में लाखों लोग घूमने के लिए आने वाले है।

Uttarakhand Police Bharti 2022: Apply Online

उत्तराखंड बेरोजगारी भत्ता 2022 रोजगार पंजीकरण ऑनलाइन आवेदन

(अप्लाई) उत्तराखंड फ्री लैपटॉप योजना 2022

Chardham Yatra से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें

  • यह चार धाम यात्रा पंजीकरण सिर्फ उन लोगो का होता है जो उत्तराखंड के निवासी नहीं होते।
  • चारधाम यात्रा का पंजीकरण करने के लिए आपको देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल साइट पर जाना होगा। और अपनें आधार कार्ड की डिटेल्स डालनी होगी।
  • उत्तराखंड में रहने वाले लोगो के लिए पंजीकरण की कोई आवश्यकता नहीं है।
  • जिन यात्रियों ने कोरोना वायरस की वैक्सीन की दोनों डोज लगवा ली है उन्हे डोज लगवाने के 15 दिन बाद का सर्टिफिकेट दिखाना होगा। उस सर्टिफिकेट को दिखाने के बाद ही आप को यात्रा करने की अनुमति मिल पाएगी। और साथ साथ आपको यात्रा के दौरान अपना वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट भी लाना होगा।
  • जिन यात्रियों ने एक वैक्सीनेशन डोज़ या कोई भी डोज़ नहीं लगवाई है उन्हें 72 घंटे के अंदर का अपना आरटीपीसीआर रिपोर्ट दिखाना होगा और वो रिपोर्ट नेगेटिव आनी चाहिए।
  • यात्रा के दौरान अगर कोई कोरोना पॉजिटिव पाया जाए तो उसे जांच के लिए वापिस भेजा जाएगा और अगर तब उसकी हालत गंभीर हुई तो एक प्रोटोकॉल के तेहत आगे क्या करना है यह देखा जायेगा।
  • यात्रियों को यात्रा और दर्शन के समय भी नियमों का पालन करना होगा साथ ही साथ सारे कार्य प्रोटोकॉल के नियम के अनुसार ही करना होगा।
  • मंदिर के आंगन में प्रसाद देना और किसी भी प्रकार का टीका लगाने की अनुमति नहीं होगी। उसके साथ ही साथ सभी यात्रिओं को कोई भी मूर्तियों, घंटियों व ग्रंथो को छुने की कोई अनुमति नहीं होगी।

चारधाम यात्रा पंजीकरण के लिए आवेदन

  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको चारधाम यात्रा पंजीकरण का आप्शन दिखेगा आपको वहां पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जहां आपको रजिस्ट्रेशन या लोग इन का ऑप्शन दिखेगा। नए रजिस्ट्रेशन के लिए आपको रजिस्ट्रेशन के आप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद अगले पेज पर अपनी सभी जानकारियों को दर्ज करना होगा जैसे आपका नाम, आपका मोबाइल नंबर, आपका टूर ऑपरेटर आप अकेले आ रहे हो या अपने परिवार के साथ यह सभी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • उसके बाद आपको एक पासवर्ड सेट करना होगा और आप की रजिस्ट्रेशन प्रकिया पूरी हो जाएगी।

Direct Links for Chardham Yatra 2022 Registration

Official Website Click Here
Our Website Click Here
Join Us on Telegram Click Here

चारधाम यात्रा हेल्पलाइन नंबर

अगर आपके मन में अभी भी कोई सवाल है या कुछ और पूछना या फिर आपके रजिस्ट्रेशन प्रोसेस में कोई परेशानी आ रही है तो आप इस हेल्पलाइन नम्बर पर कॉल करके अपनी परेशानी दूर कर सकते है।

चार धाम यात्रा के लिए हेल्पलाइन नंबर है 0135 – 2750984,  91-135-2552626, 91-135-2559987

FAQs – चारधाम यात्रा पंजीकरण 2022

प्रश्न: चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण कैसे करायें?

उत्तर: इस यात्रा के लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन माध्यम से पंजीकरण करा सकते है। आप उत्तराखंड की सीमा नारसन व आशारोड़ी में अपना पंजीकरण करा सकेंगे। वहीं आपको ऋषिकेश और यात्रा मार्ग पर अलग-अलग जगह पंजीकरण केंद्रों की सुविधा उत्तराखंड सरकार की तरफ से उपलब्ध कराई जाएगी।

प्रश्न: चारधाम यात्रा के लिए ई पास कैसे कहाँ से मिलेगा?

उत्तर: अबकी बार उत्तरखंड सरकार ने ई-पास की बाध्यतता को हटा दिया है। इस वर्ष चार धाम यात्रा के लिए ई पास की जरूरत नहीं होगी।

प्रश्न: चार धाम यात्रा के लिए कोरोना वैक्सीन लगवाना जरूरी होगा क्या?

उत्तर: जी हां, यात्रा करने वाले को कोरोना वायरस की वैक्सीन की दोनों डोज लगी हुई होनी चाहिए। अधिक जानकारी के लिए सरकार द्वारा जारी की गयी गाइडलाइन्स को पढ़े।

प्रश्न: चारधाम यात्रा हेल्पलाइन नंबर क्या है?

उत्तर: हेल्पलाइन नंबर: 0135 – 2750984,  91-135-2552626, 91-135-2559987

Chardham Yatra 2022 निष्कर्ष (Conclusion)

हमने इस आर्टिकल में चार धाम यात्रा के लिए पंजीकरण कैसे करना है? किन-किन बातों का ध्यान रखना है? वो सभी जानकारी इस आर्टिकल के द्वारा आप तक पहुंचाने की कोशिश की हैं। अगर उसके बावजूद आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमसे कॉमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं।

1 thought on “चारधाम यात्रा 2022 ऑनलाइन पंजीकरण [शुरू!] Chardham Yatra से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें”

Leave a Comment